Ads

12 जन॰ 2021

विधि रसायन विज्ञान (forensic chemistry)

 विधि रसायन विज्ञान के अन्तर्गत विष, विभिन्न प्रकार के रसायन, नशीले पदार्थ, तथा दवा आदि की जांच की जाती है ताकि पीड़ितों तथा अपराधियों की पहचान करने तथा आपराधिक मामलों के हल करने में मदद मिल सके। प्रयोगशाला में और आपराधिक क्षेत्र में प्रौद्योगिकी तथा तकनीकों का उपयोग करते हुए, विधि रसायन विज्ञानी मृत्यु के कारण को निर्धारित करने के लिए कपड़ों, हथियारों और अन्य सतहों पर पाए गए अथवा एकत्र किये गये रसायनिक सबूतों का विश्लेषण करते हैं। उदाहरणार्थ विधि रसायन विज्ञानी यह पता करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं कि क्या व्यक्ति कि मृत्यु किसी विष के कारण हुयी है या किसी दवा में कोई अन्य पदार्थ मिला हुआ है, आदि।

रसायन विज्ञान विभाग

विधि विज्ञान प्रयोगशाला में निम्ननिलिखित विभाग के अन्तर्गत विभिन्न प्रकार के रसायनों का परीक्षण किया जाता है:

रसायन विज्ञान विभाग के अन्तर्गत निम्नलिखित कार्य किये जाते है:

  • विष की जैविक पदार्थों में पहचान करना, जैसे कि; विसरा, रक्त, मूत्र, पेट धोना, उल्टी आदि।
  • एनडीपीएस अधिनियम, 1985 के अनुसार नशीले पदार्थों, मनोवैज्ञानिक पदार्थों का गुणात्मक विश्लेषण।
  • आगजनी तथा दहेज हत्या के मामलों में पेट्रोलियम उत्पादों और अन्य ज्वलनशील पदार्थों का विश्लेषण और पहचान।
  • ट्रैप मामलों में फिनोल्फ्थेलिन की पहचान। 
  • अम्ल और क्षार विश्लेषण और मिश्रित पदार्थों की जांच।

 

26 दिस॰ 2020

विधि जीव विज्ञान (Forensic Biology)

विधि जीवविज्ञान के अन्तर्गत शारीरिक तरल पदार्थों, बालों, हड्डियों, कीड़े और जानवरों की जांच की जाती है ताकि पीड़ितों तथा अपराधियों की पहचान करने तथा आपराधिक मामलों को हल करने में मदद मिल सके। प्रयोगशाला में और आपराधिक क्षेत्र में प्रौद्योगिकी तथा तकनीकों का उपयोग करते हुए, विधि जीवविज्ञानी मृत्यु के समय और कारण को निर्धारित करने के लिए कपड़ों, हथियारों और अन्य सतहों पर पाए गए जैविक सबूतों का विश्लेषण करते हैं।

विधि विज्ञान प्रयोगशाला में निम्नलिखित विभाग के अन्तर्गत  शारीरिक तरल पदार्थों, बालों, हड्डियों, कीड़े तथा अन्य का परीक्षण किया जाता है:

 

 जीव विज्ञान विभाग -

  जीव विज्ञान विभाग के अन्तर्गत निम्नलिखित परीक्षण किए जाते है:

  विभिन्न तरल पदार्थों की पहचान, जैसे कि; रक्त, मासिक धर्म रक्त, वीर्य, ​​लार, पसीना, मूत्र, उल्टी, मल पदार्थ, नाक से स्राव, आदि और उनके दाग।

  पशु/मानव के विभिन्न भागों की पहचान और विश्लेषण।

  बालों की पहचान, उत्पत्ति और तुलना। बालों की वास्तविक उत्पत्ति की पहचान; जैसे किः क्या बाल प्राकृतिक रूप से गिरे है या जबरन तोड़े गए है, काटे गए हों या जलाए गए हों आदि।

  ऊन सहित सभी प्रकार के रेशों की पहचान और तुलना।

  कंकाल तथा दातों से व्यक्ति के लिंग, आयु, ऊंचाई और पहचान आदि की उत्पत्ति का निर्धारण किया जाता है।

सुपरइम्पोजिशन तकनीक को लागू करने से पहले, मानव खोपड़ी के फोटोग्राफ के साथ एन्थ्रोपोमेट्रिक तुलना करनी होगी।

आपराधिक विज्ञान (Criminology)

अपराधिक विज्ञान क्या है?

सामाजिक दृष्टिकोण से अपराध का अध्ययन ही अपराध विज्ञान है। जिसके अन्तर्गत यह जांच करना शामिल है कि कौन अपराध करता है, क्यों करता है, उसका प्रभाव क्या है, और उसे कैसे रोका जाए।

आपराधिक विज्ञान, विज्ञान का अनुप्रयोग है जो साक्ष्य एकत्र करने, जांचने, पहचानने और तुलना करने का उपयोग करता है, जैसे कि; जैविक, चिन्ह, आग्नेयशास्त्र, साक्ष्य और जांच से संबंधित अन्य।

20 दिस॰ 2020

प्रश्नाकिंत दस्तावेज़ परीक्षण (Questioned Document Examination)

प्रश्नांकित दस्तावेज परीक्ष विधि विज्ञान की एक शाखा है जो संदिग्ध प्रामाणिकता वाले दस्तावेजों से संबंधित है। इसे विधि विज्ञान के अन्तर्गत दस्तावेज़ परीक्ष भी कहा जाता है प्रश्नांकित दस्तावेज परीक्ष वैध दस्तावेज के बारे में सभी उत्पन्न प्रश्नो का उत्तर देने तथा उससे सम्बन्धित साक्ष्य पेश करने में मदद करता है जो की अदालत में सम्बन्धित वाद के सम्बन्ध में दस्तावेज की वैधता साबित करने के लिए स्वीकार्य है।

विधि विज्ञान प्रयोगशाला में निम्नलिखित विभाग के अन्तर्गत प्रश्नांकित दस्तावेज का परीक्षण किया जाता है:


दस्तावेज़ विभाग

दस्तावेज़ विभाग के अन्तर्गत निम्नलिखित परीक्षण किए जाते है:

  • लिखावट और हस्ताक्षर की पहचान।

  • हस्ताक्षरों में जालसाजी का पता लगाना

  • टाइपराइटर और टाइपिस्ट की पहचान और टाइपिस्ट का परीक्षण।

  • स्याही के प्रकार और कागज का विश्लेषण और तुलना।

  • कागजात पर लगी मोहरो की छाप या साबुत रबर के मोहरों की जांच, तुलना और विश्लेषण करना।

  • यात्रा दस्तावेजों, जैसे कि पासपोर्ट, यात्री चेक, पहचान पत्र, क्रेडिट कार्ड, वीजा, ड्राइविंग लाइसेंस आदि में जालसाजी का पता लगाना।

  • गोपनीय लेखन का पता लगाना और उसका विश्लेषण करना।

विधि विज्ञान के नियम और सिद्धांत ( Law and Principles of Forensic Science)

  विधि विज्ञान वह विज्ञान है जिसने अपने नियम और सिद्धांत विकसित किए हैं। सभी बुनियादी विज्ञानों के नियम और सिद्धांत विधि विज्ञान का आधार हैं...